blogid : 321 postid : 1349073

पिता और भाई बॉलीवुड के बड़े स्‍टार पर इन्‍होंने पॉलिटिक्‍स में बनाया कॅरियर, जानें प्रिया के बारे में खास बातें

Posted On: 28 Aug, 2017 Politics में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

पिता और भाई बॉलीवुड के टॉप स्‍टार्स में शामिल रहे, लेकिन इन्‍होंने राजनीति में कॅरियर बनाया। परिवार में जहां ग्‍लैमर पूरी तरह छाया रहता था, वहीं इस स्‍टार किड का झुकाव समाज सेवा और महिला अधिकारों की तरफ रहा। ये कोई और नहीं, बल्कि सुनील दत्‍त की बेटी और संजय दत्‍त की बहन प्रिया दत्‍त हैं। आज प्रिया का जन्‍मदिन है। आइये जानते हैं उनके बारे में कुछ खास बातें।


priya dutta


प्रिया दत्त का जन्म 28 अगस्त, 1966 को मुंबई में हुआ था। वे बॉलीवुड अभिनेता और राजनेता सुनील दत्त व अभिनेत्री नरगिस दत्त की बेटी हैं। प्रिया अभिनेता संजय दत्त और नम्रता दत्त की बहन हैं।


प्रिया ने मुंबई विश्वविद्यालय के सोफिया कॉलेज से समाज शास्त्र में बीए की डिग्री प्राप्त की है। भले ही प्रिया को राजनीति अपने पिता से विरासत में मिली, लेकिन उन्होंने अपनी प्रतिभा से अपनी अलग पहचान बनाई।


प्रिया की शादी 27 नवंबर 2003 को ओवेन रॉनकॉन से हुई। ओवेन एक म्युजिक कंपनी चलाते हैं। प्रिया के दो बेटे हैं सिद्धार्थ और सुमेर।


priya and sanjay dutta


पिता सुनील दत्‍त की मौत के बाद वे राजनीति में आईं। प्रिया पहली बार 2005 में कांग्रेस पार्टी के टिकट पर उत्तरी-पश्चिमी मुंबई लोकसभा क्षेत्र से 14वीं लोकसभा के लिए चुनी गईं। वहीं, दूसरी बार 2009 में 15वीं लोकसभा में मुंबई उत्तर-मध्य संसदीय क्षेत्र से सांसद बनीं। 2014 के लोकसभा चुनाव में उन्हें बीजेपी की पूनम महाजन ने हरा दिया।


संजय दत्‍त के जेल में रहने के दौरान प्रिया ने अपने परिवार के साथ-साथ अपने भाई संजय के परिवार का भी बखूबी खयाल रखा।


प्रिया फिल्मी परिवार से हैं, लेकिन शुरू से ही उनकी रुचि समाज सेवा में रही, जिस कारण लोग उनकी सराहना करते हैं। प्रिया ने महिलाओं के हक के लिए समय-समय पर आवाज उठाई, चाहे वह महिलाओं के आरक्षण की बात हो या फिर वेश्यावृत्ति की कानूनी मान्यता की।


Priya Dutt 1


1993 में हुए मुंबई दंगे के समय प्रिया मुस्लिमों के लिए बनाए गए रिफ्यूजी कैम्पों में लोगों की मदद करने जाया करती थीं। इस कारण उन्हें जान से मारने की धमकी भी मिली थी।


प्रिया अपनी बहन नम्रता दत्त के साथ मिलकर ‘मिस्टर एंड मिसेज दत्त: Memories of our Parents’ नाम से एक किताब भी लिख चुकी हैं।


Read More:

इस शहर में ‘अल्‍ला हु अकबर’ कहने पर मार दी जाएगी गोली! मेयर ने दिया आदेश
कभी कांग्रेस के लिए मेनका ने किया था ये बड़ा काम, संजय गांधी की मौत के बाद छोड़ना पड़ा ससुराल
पहली बार संसद पहुंचे भाजपा के ‘चाणक्‍य’, जानें अमित शाह के बारे में ये 10 बड़ी बातें



Tags:                       

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 4.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran