blogid : 321 postid : 1340954

कभी दीवारों पर चुनावी पोस्टर लगाया करते थे वेंकैया नायडू, आज हैं उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार

Posted On: 18 Jul, 2017 Politics में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

कल हर जगह केवल एक ही चर्चा थी और वो थी भारत के नए राष्ट्रपति का चुनाव और कौन होगा नए राष्ट्रपति क्या पीएम का दांव कामयाब होगा या एक बार फिर से देश एक महिला राष्ट्रपति की छांव में आगे बढ़ेगा. इस पर चर्चा हो ही रही थी कि बीजेपी ने एक बार फिर से उपराष्ट्रपति के लिए एक चौंकाने वाला नाम सामने आया है. वेंकैया नायडू उपराष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए एनडीए के उम्मीदवार होंगे. चलिए जानते हैं आखिर कैसा है वेंकैया नायडू का अब तक का सफर.


cover venkaiah naidu


पोस्टर लगाने का काम करते थे वेंकैया नायडू

वेंकैया नायडू का नाम हैरान करने वाला तो है लेकिन ये नाम बीजेपी का सबसे पुराना औऱ भरोसेमंद नाम है. नायडू तब से पार्टी से जुड़े हुए हैं जब भाजपा का नाम भी पार्टी के तौर पर उतना मशहूर नहीं था. सत्तर के दशक में जब भाजपा का पूर्ववर्ती संगठन जनसंघ अपनी पहचान बना ही रहा था और दक्षिण में उसका कोई आधार नहीं था, तब आंध्र प्रदेश का एक युवा पार्टी कार्यकर्ता अटल बिहारी वाजपेयी और लालकृष्ण आडवाणी जैसे दिग्गजों के पोस्टर लगाने का काम करते थे.


Venkaiah-Naidu

कर्नाटक से राज्यसभा जा चुके हैं वेंकैया नायडू

आंध्र प्रदेश के नेल्लूर जिले के एक सीधे-सादे कृषक परिवार से ताल्लुक रखने वाले भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष नायडू आंध्र प्रदेश विधानसभा में दो बार सदस्य रह चुके नायडू कभी लोकसभा के सदस्य नहीं रहे. हालांकि, वो तीन बार कर्नाटक से राज्यसभा में पहुंच चुके हैं और फिलहाल उच्च सदन में ही राजस्थान का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं.


naidu


भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रह चुके हैं नायडू

नायडू फिलहाल सूचना प्रसारण और शहरी विकास मंत्रालयों का कामकाज संभाल रहे हैं. वह मोदी सरकार में संसदीय कार्य मंत्री भी रह चुके हैं. अटल बिहारी वाजपेयी के समय राजग की पहली सरकार में 68 वर्षीय नायडू ग्रामीण विकास मंत्री रहे. वह जुलाई 2002 से अक्तूबर 2004 तक लगातार दो कार्यकाल में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे. 2004 के लोकसभा चुनावों में पार्टी की हार के बाद उन्होंने पद छोड़ दिया.


venkaiah naidu 2


जेल भी जा चुके हैं नायडू

आपातकाल के समय नायडू एबीवीपी के कार्यकर्ता रहे और जेल में भी रहे. 1977 से 1980 के बीच जनता पार्टी के समय में वे यूथ विंग के प्रेसिडेंट भी रहे. 1978 में वे विधायक भी चुने गए थे. वेंकैया नायडू शुरु से ही पार्टी के भरोसेमंद रहे हैं.


IND2101B.JPG



पार्टी के भरोसेमंद नेता हैं नायडू

वेंकैया नायडू ने 1980 में बीजेपी यूथ विंग और आंध्र प्रदेश विधानसभा का नेता प्रतिपक्ष बनाया गया था. शुरुआती दौर में वे आंध्र बीजेपी के सबसे वरिष्ठ नेताओं में से एक थे. नेता प्रतिपक्ष की जिम्मेदारी के बाद पार्टी ने उनका कद बढ़ाते हुए 1988 में उन्हें आंध्र बीजेपी का अध्यक्ष बना दिया…Next


Read More:

‘आपकी पत्नी की सैलेरी कितनी है?’ ट्विटर यूजर ने सुषमा के पति से पूछा सवाल, जवाब सुनकर हंसने लगे लोग

अमिताभ के साथ वीडियो में नजर आई थीं इस सीएम की पत्नी, चर्चा में रहने वाली कुछ ऐसी ही मशहूर पत्नियां

पीएम मोदी के सुरक्षाकर्मियों के पास क्यों होता है ये ब्रीफकेस, क्या होता है इसके अंदर

‘आपकी पत्नी की सैलेरी कितनी है?’ ट्विटर यूजर ने सुषमा के पति से पूछा सवाल, जवाब सुनकर हंसने लगे लोग
अमिताभ के साथ वीडियो में नजर आई थीं इस सीएम की पत्नी, चर्चा में रहने वाली कुछ ऐसी ही मशहूर पत्नियां
पीएम मोदी के सुरक्षाकर्मियों के पास क्यों होता है ये ब्रीफकेस, क्या होता है इसके अंदर


Tags:                             

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran