blogid : 321 postid : 845685

किरण बेदी ने नहीं, इन्होंने उठाई थी इंदिरा गाँधी की कार!

Posted On: 2 Feb, 2015 Politics में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

किरण बेदी ने सामान्य लोगों के बीच अपनी छवि उस पुलिस अधिकारी के रूप में बनाई है जिन्होंने तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी की कार का चालान काटा था. अगर आपके मन में भी किरण बेदी की छवि कुछ ऐसी ही बनी है तो आपके लिए उस व्यक्ति के बारे में जानना ज्यादा जरूरी है जिन्होंने वास्तव में प्रधानमंत्री की कार का चालान काटा था.


sub inspector

यह बात वर्ष 1982 के अगस्त महीने की है. उस समय प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी विदेश दौरे पर थी. प्रधानमंत्री कार्यालय की एक कार दिल्ली के भीड़-भाड़ और व्यस्त समझे जाने वाले इलाके कनॉट प्लेस में एक दुकान के सामने बेतरतीब तरीके से रखी गई थी. उस समय किरण बेदी पुलिस में ट्रैफिक उपायुक्त के पद पर कार्यरत थी.



Read: …अगर कार्रवाई हो जाती तो नौकरी से बर्खास्त हो सकती थी किरण बेदी



उनके अधीनस्थ काम करने वालों में से एक सब-इंस्पेक्टर हुआ करते थे. उस सब-इंस्पेक्टर के कार्यक्षेत्र में कनॉट प्लेस भी था. एक दिन उन्हें वहाँ के किसी दुकानदार का संदेश आया कि पीएमओ की गाड़ी वहाँ अवैध रूप से रखी गई है. बस, फिर क्या था! वो सब-इंस्पेक्टर निर्मल सिंह वहाँ पहुँच गए और अपना कर्तव्य निभाते हुए उन्होंने उस गाड़ी का चालान काट दिया. इसके बाद उस गाड़ी को क्रेन से उठवा लिया गया.



kiran bedi



दशकों तक देश के सामान्य लोगों तक यह बात नहीं पहुँच पाई कि दरअसल इंदिरा गाँधी की कार का चालान निर्मल सिंह नाम के सब-इंस्पेक्टर ने काटा था. एसीपी के पद से सेवानिवृत्त हुए निर्मल सिंह ने कनॉट प्लेस में अवैध रूप से रखी गाड़ी जिसकी संख्या डीएचडी-1817 थी का चालान काटा और क्रेन से उसे उठवा लिया जिसके कुछ दिनों बाद ही उनका स्थानांतरण हवाई अड्डा कर दिया गया. यहाँ तक कि किरण बेदी के ट्विटर खाते पर भी उनके परिचय में यह लिखा हुआ मिला था कि, ‘उन्होंने पीएम की कार को ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन के मामले में उठवा लिया.’ Next….






Read more:

क्या अरविंद केजरीवाल और किरण बेदी के रास्ते अलग हो चुके हैं?

भारतीय राजनीति: सत्ता और पुलिस

ऐसा क्या था सड़क पर लगे उस विज्ञापन में जिसे हटाने पुलिस को आना पड़ा







Tags:                                     

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

yamunapathak के द्वारा
February 3, 2015

धन्यवाद यह जानकारी सब को पढनी चाहिए साभार


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran