blogid : 321 postid : 832488

जब मुंह खोलते हैं जहर ही उगलते हैं ये नेता

Posted On: 8 Jan, 2015 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

चुनाव के समय जब जनता किसी प्रत्याशी को अपने क्षेत्र का कर्णधार बनाती है और उसे जिताकर देश की संसद या विधानमंडल में भेजती है, तब उस प्रत्याशी से यह उम्मीद की जाती है कि वे धर्म, जाति और वर्ग आदि को भुलाकर देश के सर्वागीण विकास के बारे में सोचें. लेकिन आजादी के छह दशक बाद भी भारत की जनता को इस मामले में केवल धोखा ही मिला है.

leaders12

हर पांच साल बाद चुनाव के समय देश की जनता को यह यकीन कराया जाता है कि धर्म और जाति को भूलाकर देश की समृद्धि और विकास के बारे में सोचा जाएगा और जनता भी बड़ी संख्या में चुनाव में भाग लेकर उनके भरोसे को और पुख्ता करती है लेकिन अंत उन्हें महंगाई, भ्रष्टाचार तथा देश को विभाजित करने वाले बयान ही सुनने को मिलते हैं. जैसे आजकल मोदी की सरकार में सुनने को मिल रहे हैं. ऐसे बयान नरेंद्र मोदी के उस नारे को कमजोर करते हैं जो उन्होंने 2014 में आम चुनाव के दौरान बड़े-बड़े मंचों पर दिए थे. वह नारा था सबका साथ सबका विकास.


आइए उन नेताओं पर नजर दौड़ाते हैं जिन्होंने हाल ही में आपत्तिजनक और देश की अखंडता को भंग करने वाले बयान दिए हैं.


बीएसपी नेता हाजी याकूब कुरैशी: डेनमार्क के कार्टूनिस्ट के सिर पर 51 करोड़ रुपये का इनाम घोषित कर चर्चा में आए उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री और वर्तमान में बीएसपी नेता हाजी याकूब कुरैशी ने पैरिस में शार्ली एब्दो मैगजीन पर हमले का समर्थन किया है. उन्होंने कहा कि जो भी पैगंबर के प्रति अनादर दिखाएगा, उसकी मौत शार्ली एब्दो के पत्रकारों और कार्टूनिस्टों की तरह ही होगी.


सांसद साक्षी महाराज: विवादित बयान देकरकर सुर्खियों में रहने वाले उन्नाव से बीजेपी के सांसद साक्षी महाराज के मुताबिक हर हिंदू महिला को कम से कम चार बच्चे जरूर पैदा करने चाहिए. उनके इस बयान के बाद विश्व हिंदू परिषद के कार्याध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने भी हिंदुओं को 3 बच्चे पैदा करने की शपथ दिलाई है. तोगड़िया ने हिंदु समाज को जनसंख्या बढ़ाने की खुले मंच पर वकालत की है. साक्षी महाराज ने इससे पहले भी विवादास्पद बयान देते हुए आरोप लगाया कि मदरसे आतंकवाद की शिक्षा देते हैं.


सांसद असादुद्दीन ओवैसी: एआईएमआईएम नेता और हैदराबाद के सांसद असादुद्दीन ओवैसी ने पैगंबर मुहम्मद साहब की जयंती ईद मिलाद उन-नबी की पूर्व संध्या पर एक विवादित बयान देते हुए कहा ‘हर बच्चा मुस्लिम पैदा होता है. उसके अभिभावक और समाज उसे अन्य धर्मों में बदल देते हैं.


Read: ये रहे भारत के विवादित धर्म-गुरू जिनके करतूतों को जानकर आप हो जाएंगे हैरान


महिला सांसद साध्वी निरंजन ज्योति: भाजपा सांसद और मोदी सरकार में खाद्य प्रसंस्करण राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने पिछले साल दिसंबर महीने में दिल्ली की चुनाव पर ऐसा बयान दिया जिसने कई दिनों तक संसद के कामकाज को बाधित करने में अपनी भूमिका निभाई. मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने दिल्ली चुनावों पर कहा, दिल्ली में या तो रामजादों (राम के पुत्रों) की सरकार बनेगी या फिर हरामजादों की.


सीएम ममता बनर्जी: दिसंबर महीने में ही पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी एक आपत्तिजनक बयान को लेकर विवादों में आ गई हैं. जलपाईगुड़ी में ममता ने विपक्षियों पर हमला बोलते हुए कहा कि बांस जंगल में उगता है और वो घर बनाने के काम आता है, लेकिन कुछ लोग हमको बांस करना चाहते हैं. लेकिन उन लोगों को नहीं मालूम है कि जब बांस उनके में जाएगा तो उनको पता चल जाएगा.


यूपी मंत्री आजम खान: उत्तर प्रदेश के नगर विकास मंत्री आजम खान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर करारा प्रहार करते हुए कहा कि देश के ‘बादशाह’ ने मुल्क को बारूद की ढेर पर ला खड़ा किया है. मोदी खुद तो दुनिया को शांति का संदेश दे रहे हैं, लेकिन उनके मंत्री व पार्टी नेता देश का माहौल खराब कर रहे हैं और प्रधानमंत्री इस पर खामोश हैं.


सांसद आलोक संजर: भोपाल के बीजेपी सांसद आलोक संजर ने एक टेस्ट ट्यूब बेबी सेंटर का उद्धाटन के दौरान विवादास्पद बयान देते हुए कहा ज्यादा सेक्स से इंसान की उम्र कम होती है.


Read: बॉलीवुड की सबसे विवादित अभिनेत्री का पति है मर्फी बेबी


सांसद योगी आदित्यनाथ: हमेशा विवादित बयान देने वाले गोरखपुर से सांसद और महंत आदित्यनाथ ने 6 दिसंबर की घटना को हिंदुओं के लिए शौर्य, स्वाभिमान और एकता का प्रतीक बताया है. 6 दिसंबर 1992 में बाबरी मस्जिद ढांचे को गिराया गया था. इसके अलावा धर्मांतरण के मुद्दे पर भी वह समय-समय पर विवादित बयान देते रहे हैं.


विधायक दीपक हलदर: दक्षिण 24 परगना जिले के डायमंड हार्बर से तृणमूल विधायक दीपक हलदर ने अगस्त में एक सभा में कहा था कि ‘दुष्कर्म पहले भी होते थे, आज भी होते हैं. जब तक धरती है, दुष्कर्म होते रहेंगे.


अशोक सिंघल: विश्व हिंदू परिषद के नेता अशोक सिंघल ने कहा दिल्ली में पृथ्वीराज चौहान के बाद पहली बार हिंदुओं के हाथ सत्ता आई.


कांग्रेस नेता जयकिशन: दिल्ली में एक जनसभा को संबोधित करते हुए दिसंबर में कांग्रेस नेता जयकिशन ने आम आदमी पार्टी और भाजपा को निशाना बनाते हुए बेहद आपत्तीजनक बयान दे दिया. उन्होंने कहा ‘जो बीजेपी में हैं वह आदमी की औलाद नहीं हराम की औलाद हैं. जो आम आदमी पार्टी में शामिल हैं वह भी हराम की औलाद हैं…..Next


Read more:

बड़े रोचक किस्से हैं इस विवादित वकील के

एक विवादित संगीतकार

नल से टपकते पानी और धन की बर्बादी का क्या है संबंध




Tags:                   

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran